Prakash Prajapati
Web Graphic Designer

Lorem ipsum dolor sit amet, consectetur adipisicing elit, sed do eiusmod tempor incididunt ut labore et.

Our Patners

हिमाचल में भारी बारिश से 12 मकान और 10 गोशालाएं क्षतिग्रस्त, तेज बहाव में बहा ट्रैक्टर

  net           2022-08-08 21:47:56          63

  हिमाचल प्रदेश में शुक्रवार को भारी बारिश से 12 मकान, 10 गोशालाएं क्षतिग्रस्त हो गईं। 29 सड़कों पर वाहनों की आवाजाही ठप रही। जिला सोलन के बद्दी की बालद खड्ड में शुक्रवार शाम करीब 6:30 बजे कबाड़ से लदी एक ट्रैक्टर-ट्रॉली फंस गई। पानी का बहाव तेज होने से ट्रैक्टर में सवार तीनों लोग करीब 20 मिनट पानी में खड़े रहे। ट्रैक्टर और ट्रॉली

पलटने के बाद तीनों पानी में गिर गए और तैरकर अपनी जान बचाई, जबकि ट्रैक्टर ट्रॉली समेत बह गया। कालका-शिमला एनएच-5 पर मनसार और जाबली के समीप पहाड़ी दरकने से वाहनों की आवाजाही वनवे करनी पड़ी। ऑरेंज अलर्ट के बीच वीरवार देर रात से शुक्रवार शाम तक शिमला, कांगड़ा, चंबा और नाहन में झमाझम बादल बरसे। सुरला पावर हाउस को जाने वाले पानी के चैनल में भारी भूस्खलन होने से चंबा जिले की पांगी घाटी में 24 घंटे बिजली गुल रही। बिजली बोर्ड प्रबंधन ने साच स्थित पावर हाउस से शुक्रवार शाम को बिजली की सप्लाई सुचारु करवाई। जिला चंबा के डुग्गी नाला में पुली बहने से फंसे सात लोगों को सुरक्षित निकाल लिया है। लाहौल स्पीति से मणिमहेश यात्रा पर आए लाहौल-स्पीति के चार और कुगति के तीन भेड़पालक डुग्गी नाला में बढ़े जलस्तर से बही पुली के कारण फंस गए थे। सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची अटल बिहारी पर्वतारोहण उपकेंद्र भरमौर से रेस्क्यू टीम ने नाले के दूसरे किनारे फंसे लोगों को सुरक्षित निकाल कर वीरवार देर रात भरमौर पहुंचाया। बारिश और भूस्खलन के चलते नाहन-कुमारहट्टी नेशनल हाईवे 907 करीब 12 घंटे बंद रहा। नैनाटिक्कर के सादनाघाट में वीरवार शाम करीब 8:00 बजे चट्टानें और मलबा आने से एनएच बंद हो गया था।


Share on Facebook Share On Whatsapp Telegram